ई-कॉमर्स ऑपरेटर कौन है?

उत्तर: एमजीएल की धारा 43बी(ई) इलेक्ट्रॉनिक कॉमर्स ऑपरेटर (ऑपरेटर) को प्रत्येक उस व्यक्ति के रूप में परिभाषित करती है जो प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से, इलेक्ट्रॉनिक मंच पर स्वामित्व, संचालन य प्रबंधन कर रहा है जो वस्तुओं और सेवाओं की आपूर्ति में संलग्न हैं। इसके अतिरिक्त इसमें ऐसे व्यक्ति भी शामिल हैं जो कोई भी जानकारी या इन वस्तुओं और सेवाओं की आपूर्ति से जुड़ी हुई अन्य सेवाएं इलेक्ट्रॉनिक मंच के माध्यम से उपलब्ध कराते हैं उन पर ऑपरेटर के रूप में विचार किया जाएगा | एक व्यक्ति अपने स्वयं के खाते पर वस्तुओं/सेवाओं की आपूर्ति कर रहा है, हालांकि, उसे एक ऑपरेटर के रूप में नहीं माना जाएगा | उदाहरण के लिए, अमेजान और फिलपकार्ट ई-कॉमर्स ऑपरेटर हैं क्योंकि वे अपने मंच के माध्यम से वस्तुओं की आपूर्ति करने के लिए वास्तविक आपूर्तिकर्ताओं को सुविधाएं प्रदान कर रहे हैं (आमतौर पर इसे मार्किट प्लेस मॉडल कहा जाता है) कर रहे हैं। हालांकि, टाइटन अपनी स्वयं की इसलिये इस पर इन प्रयोजन के लिये एक ई-कॉमर्स के ऑपरेटर के रूप में विचार नहीं किया जाएगा। इसी तरह अमेजान और फ्लिपकार्ट को उन आपूर्तियों के लिये ऑपरेटर नहीं कहा जाएगा जो वे अपने स्वयं के खाते (आमतौर पर इसे इनवेंटरी मॉडल कहते हैं) के लिये करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *